उत्तर प्रदेश में व्यापारियों ने जीएसटी का फूंका पुतला,लगातार कर रहे हैं विरोध 

कानपुर ।मोदी सरकार 1 जुलाई से जीएसटी लागू करने के लिए जीजान से लगी हुई हैं वहीं देश में जीएसटी को लेकर विपक्ष और व्यापारियों का रोष थमने का नाम नहीं ले रहा है। गुरूवार को जहां देवकी चौराहे पर सपा ने जीएसटी बिल का पुतला फूंका, तो वहीं कपड़ा व्यापारियों ने भाजपा विधायक नीलिमा कटियार को ज्ञापन सौंप कर शीर्ष नेताओं तक इसकी समस्याओं को पहुंचाने की मांग रखी।
देवकी चौराहे पर समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता और उत्तर प्रदेश उद्योग व्यपार मंडल के अध्यक्ष अभिमन्यु गुप्ता की अध्यक्षता में सपा नेताओं और व्यापारियों ने जीएसटी बिल का पुतला फूंका। सपा प्रवक्ता ने कहा, लगभग दो सौ घंटे बाद लागू होने वाले जीएसटी बिल के आ जाने से अधिकारियों के अधिकार और बढ़ जायेंगे। देश में इंस्पेक्टरराज को बढ़ावा मिलेगा। हिरासत के प्रावधान के बाद व्यापारियों का शोषण होगा और आज जिस तरह से किसान इस सरकार में आत्महत्या कर रहा है फिर व्यापारी भी आत्महत्या करने को मजबूर होगा। इस दौरान हरप्रीत सिंह,बब्बर,संजय बिस्वारी,उपेंन्द्र दुबे,मनोज सोनी,विक्की गुरवानी सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।जीएसटी के विरोध को लेकर कपड़ा कमेटी नौघड़ा ने भी आवास विकास कल्याणपुर में भाजपा विधायक नीलिमा कटियार को ज्ञापन सौंपा। व्यापारियों ने अपनी मांगें राष्ट्रीय अध्यक्ष तक पहुंचाने की मांग की। कपड़ा व्यापार मंडल अध्यक्ष शेष नारायण त्रिवेदी ने बताया कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार को व्यापारी बड़ी उम्मीदों के साथ लाया था। प्रदेश और केंद्र में सरकार को लाने में व्यापारी वर्ग का भारी योगदान रहा है। ऐसे में कपड़े पर जीएसटी को लेकर व्यापारी नाखुश है। ज्ञापन के माध्यम से व्यापारी शीर्ष नेताओं से कपड़े पर जीएसटी बिल न लागू करने की मांग करता है।जीएसटी बिल को लेकर कल्याणपुर विधायक नीलिमा कटियार ने कहा, सरकार की तरफ से जीएसटी का फैसला आर्थिक आजादी की तरफ एक कदम है। एकल विंडो के तहत एक कर लगने के बाद आखिरकार व्यापारी का ही लाभ है, लेकिन फिर भी व्यापारियों की मांग पर ज्ञापन को शीर्ष नेतृत्व तक पहुंचाया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *