राहुल गांधी की कार पर हमला करने के आरोप में BJP नेता समेत 4 हिरासत में

गुजरात.राहुल गांधी ने शुक्रवार को बाढ़ प्रभावित इलाका बनासकांठा का दौरा किया था। इस दौरान राहुल को काले झंडे दिखाए गए और कुछ लोगों ने पत्थर भी फेंके। इस मामले में शनिवार को पुलिस ने चार लोगों को हिरासत में लिया है। न्यूज एजेंसी के मुताबिक, इनसे पूछताछ की जाएगी। इस घटना के बाद राहुल गांधी ने कहा- “उन लोगों को काले झंडे दिखाने दो। मैं उनसे नहीं डरता।” बता दें कि गुजरात में बाढ़ से सबसे ज्यादा नुकसान बनासकांठा में ही हुआ था। यहां 61 लोगों की मौत हो चुकी है।

 गुजरात में अपनी कार पर हुए पथराव के लिए राहुल गांधी ने शनिवार को बीजेपी और आरएसएस को जिम्मेदार बताया। घटना पर नरेंद्र मोदी की ओर से कोई कमेंट नहीं आने पर उन्होंने कहा- ”जो लोग हमला कराते हैं, वे उसकी निंदा क्यों करेंगे।
– मोदीजी की राजनीति का यही तरीका है, क्या कह सकते है। ऐसे हमलों से डरने वाला नहीं हूं, लोगों की आवाज उठाता रहूंगा।”
– वहीं, कांग्रेस ने कहा कि ये हमला जानलेवा और पहले से प्लान था।
अब तक चार लोग हिरासत में
– राहुल की कार पर हमला करने के मामले में गुजरात पुलिस ने अब तक चार लोगों को अरेस्ट किया है। इसके एक बीजेपी की युवा इकाई का महामंत्री है। इसका नाम जयेश दर्जी है। बाकी तीन लोगों के बारे में पुलिस ने जानकारी नहीं दी है।
कहां दिखाए गए राहुल को काले झंडे
– बनासकांठा जिले के धानेरा तहसील के लाल चौक के जिस इलाके में राहुल गांधी पहुंचे थे। वहां लोगों ने नरेंद्र मोदी के समर्थन में नारेबाजी की और राहुल को काले झंडे दिखाए। हालात देखकर राहुल वहां से फौरन चले गए। लोगों का आरोप है कि राहुल गांधी तो यहां आए हैं लेकिन उनके विधायक बेंगलुरू में आराम फरमा रहे हैं।
– इसके बाद उनकी कार पर पत्थर भी फेंके गए। इस हमले में कार के शीशे टूट गए। राहुल को चोट नहीं आई थी, लेकिन एनएसजी का एक कमांडो जख्मी हो गया था।
राहुल ने कहा- वो 8 या 10 लोग थे, भाग गए
– राहुल ने बनासकांठा में कहा, “काले झंडे दिखाए तो हमने सोचा कि देखते हैं इनमें कितना दम है। गाड़ी से निकला। वो 8 या 10 लोग थे, भाग गए। सच्चाई ये है कि वो डरपोक लोग हैं। महात्मा गांधी ने ये सिखाया है कि पत्थरों से और नरेंद्र मोदी के लोगों से डरने की जरूरत नहीं है। मैं यहां लोगों का दुख देखने आया हूं। हमारे पास गुजरात और हिंदुस्तान में सरकार नहीं है। पर सांसद हैं लोकसभा और राज्यसभा में। जो भी हो सकेगा हम आपकी मदद करेंगे। कल में असम गया। आज राजस्थान और गुजरात। देश में दो समस्याएं हैं।”
कांग्रेस वर्कर्स ने कई शहरों में किया प्रदर्शन
– शनिवार को अहमदाबाद, मुंबई और चंडीगढ़ समेत देश के कई शहरों में बीजेपी के खिलाफ प्रदर्शन किए। दिल्ली में बीजेपी हेडक्वार्टर के बाहर प्रदर्शन कर रहे वर्कर्स को पुलिस ने हिरासत में लिया।
– वहीं, प्रदर्शनों को लेकर राहुल ने ट्वीट कर कहा- ”पथराव को लेकर FIR दर्ज नहीं करने पर कांग्रेस वर्कर प्रदर्शन कर रहे हैं। उनकी भावनाओं का सम्मान करें। लेकिन मैं उनसे (वर्कर्स) अपील करता हूं कि अपनी एनर्जी बाढ़ पीड़ितों की मदद करने में लगाएं।”

मुझ पर बीजेपी-RSS ने पत्थर फिंकवाए, यही है मोदी की राजनीति का तरीका: राहुल

गुजरात में अपनी कार पर हुए पथराव के लिए राहुल गांधी ने शनिवार को बीजेपी और आरएसएस को जिम्मेदार बताया। घटना पर नरेंद्र मोदी की ओर से कोई कमेंट नहीं आने पर उन्होंने कहा- ”जो लोग हमला कराते हैं, वे उसकी निंदा क्यों करेंगे। मोदीजी की राजनीति का यही तरीका है, क्या कह सकते है। ऐसे हमलों से डरने वाला नहीं हूं, लोगों की आवाज उठाता रहूंगा।” वहीं, कांग्रेस ने कहा कि ये हमला जानलेवा और पहले से प्लान था। पुलिस ने इस मामले में एक शख्स को गिरफ्तार किया। 
हमले के विरोध में कांग्रेस वर्कर्स सड़कों पर उतर आए हैं। शनिवार को अहमदाबाद, मुंबई और चंडीगढ़ समेत देश के कई शहरों में बीजेपी के खिलाफ प्रदर्शन किए। दिल्ली में बीजेपी हेडक्वार्टर के बाहर प्रदर्शन कर रहे वर्कर्स को पुलिस ने हिरासत में लिया।
– वहीं, प्रदर्शनों को लेकर राहुल ने ट्वीट कर कहा- ”पथराव को लेकर FIR दर्ज नहीं करने पर कांग्रेस वर्कर प्रदर्शन कर रहे हैं। उनकी भावनाओं का सम्मान करें। लेकिन मैं उनसे (वर्कर्स) अपील करता हूं कि अपनी एनर्जी बाढ़ पीड़ितों की मदद करने में लगाएं।”
बाढ़ पीड़ितों से मिलने गए थे राहुल
– शुक्रवार को राहुल गांधी बाढ़ प्रभावित इलाके बनासकांठा के दौरे पर पहुंचे थे। यहां 61 लोगों की मौत हो चुकी है। वो पीड़ितों से मिलने जा रहे थे तभी कथित बीजेपी सपोर्टर्स ने उनकी कार पर पत्थर फेंका, काले झंडे दिखाए और नारेबाजी की।
– हमले के बाद राहुल ने ट्वीट किया- ”नरेंद्र मोदीजी के नारों से, काले झंडों से और पत्थरों से हम पीछे हटने वाले नहीं हैं, हम अपनी पूरी ताकत लोगों की मदद करने में लगाएंगे।”
– राहुल ने बनासकांठा में कहा, “काले झंडे दिखाए तो हमने सोचा कि देखते हैं इनमें कितना दम है। गाड़ी से निकला। वो 8 या 10 लोग थे, भाग गए। सच्चाई ये है कि वो डरपोक लोग हैं। महात्मा गांधी ने ये सिखाया है कि पत्थरों से और नरेंद्र मोदी के लोगों से डरने की जरूरत नहीं है। मैं यहां लोगों का दुख देखने आया हूं। हमारे पास गुजरात और हिंदुस्तान में सरकार नहीं है। पर सांसद हैं लोकसभा और राज्यसभा में। जो भी हो सकेगा हम आपकी मदद करेंगे।”
साजिश के तहत राहुल पर हमला हुआ: कांग्रेस
– कांग्रेस स्पोक्सपर्सन, गुलाम नबी आजाद ने कहा- ”राहुल गांधी पर हमला जानलेवा था, जिसे बीजेपी-आरएसएस सपोर्टर्स ने साजिश के तहत अंजाम दिया। राहुल को निशाना बनाकर करीब डेढ़ किलो वजनी सीमेंट और कॉन्क्रीट का पत्थर फेंका गया। अगर यह कार के शीशे की वजाय कांग्रेस वाइस प्रेसिडेंट को लगता तो उन्हें गंभीर चोट आ सकती थी।”
– अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा- ”ये बीजेपी की साजिश है। इसकी कड़े शब्दों में निंदा करनी चाहिए। ये बीजेपी का सही चाल, चरित्र और चेहरा दिखाती है। वो सिर्फ खिलौने चाहते हैं। राहुल को कोई चोट नहीं आई है। ये देश क्या स्वतंत्र नहीं है? क्या हम इसके लिए आपसे इजाजत लेंगे। ये देश का अपमान है।”
– अहमद पटेल ने क्या कहा- ”मैं इसकी निंदा करता हूं। ये पहले से तैयारी थी। सरकार ने विफलताओं को छुपाने के लिए ये हमले कराए। जो जिम्मेवार हैं उनके खिलाफ कारईवाई होनी चाहिए। सरकार और एडमिनिस्ट्रेशन मिली हुई है।”
बीजेपी का जवाब क्या?
– गुजरात बीजेपी के प्रवक्ता भरत पंड्या ने कहा- कांग्रेस घबरा गई है। हम घटना की निंदा करते हैं। कांग्रेस ने तो घटना के पहले ही आरोप लगा दिया। इसका मतलब ये है कि कांग्रेस सिर्फ प्रचार और प्रसार चाहती है। वो प्राइवेट गाड़ी में क्यों बैठे? हमारे होम मिनिस्टर ने फौरन जांच के आदेश दिए हैं। हमारे पीएम और राज्य के सीएम बनासकांठा दौरा कर चुके हैं। सीएम पांच दिन से वहां है।
– बीजेपी स्पोक्सपर्सन संबित पात्रा ने कहा- गुजरात कांग्रेस के एमएलए बेंगलुरु में ऐश कर रहे हैं। राहुल गांधी फोटो अपॉर्चुनिटी के लिए जाते हैं। उन्हें विषय का ज्ञान नहीं होता। वो कुछ देर नजर आते हैं इसके बाद विदेश चले जाते हैं। इसके पहले एमपी में भी किसानों के मसले पर उन्होंने यही किया था। पहले अपने विधायकों को वापस बुलाएं।
पुलिस ने क्या कहा?
– बनासकांठा के एसपी नीरज बागुजार ने कहा- एक शख्स ने राहुल की कार पर पत्थर फेंके। उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। उनकी कार का पिछला शीशा टूट गया है। घटना धानेरा में हुई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *