राजस्थान, हरियाणा के बाद दिल्ली में कोई काट रहा चोटियां, दहशत में महिलाएं

नई दिल्ली: महिलाओं के चोटी काटने की घटनाएं दिल्ली के गांव में पहुंच गई है. दिल्ली के कगनहेरी गांव में विमलेश और मनोज की मां की चोटी काटी गई है. विमलेश ने बताया कि रविवार सुबह करीब साढ़े 10 बजे उनकी मां सिर में अचानक से दर्द शुरू हुआ और लेट गई. जब उनकी नींद खुली तो देखा कि बिस्तर के नीचे चोटी कटी हुई थी. इसी तरह मनोज की मां की दो बार चोटी काटी गई. पूरे गांव में दहशत का माहौल है. लोग समझ नहीं पा रहे हैं कि आखिर कौन ऐसा कर रहा है. गांव में चर्चा है कि कोई तांत्रिक जादू-टोना करने के लिए महिलाओं की चोटियां काट रहा है. गौर करने वाली बात यह है कि कगनहेरी गांव में तीन महिलाओं की चोटी कटी है और सभी की उम्र 50 के पार है. पुलिस गांव में सुरक्षा बढ़ा दी है. पूरे गांव में सीसीटीवी कैमरे लगा दिए गए हैं, वहीं ग्रामीण खुद रात में जागकर पहरेदारी करते हैं, लेकिन पता नहीं चल पा रहा है कि आखिर महिलाओं की चोटी कौन काट रहा है. पुलिस ने लोगों को अफवाहों पर ध्यान नहीं देने की अपील की है.

वीडियो: कौन काट रहा है महिलाओं की चोटी?

राजस्थान और हरियाणा में काटी जा रही चोटियां: पुलिस का कहना है कि चोटी काटने की घटनाएं राजस्थान के गांवों से शुरू हुई है. इसके बाद हरियाणा के झज्जर, मेवात, रोहतक आदि जिले के गांवों में महिलाओं की चोटी काटने की घटनाएं हुईं. धीरे-धीरे चोटी काटने की घटनाएं गुरुग्राम के गांवों में भी होने लगी हैं.

गुरुग्राम में 8 महिलाओं की चोटी कटी: पिछले 24 घंटे में साइबर सिटी की दो महिलाओं समेत जिले की आठ महिलाओं की चोटी कटने की घटनाएं सामने आई हैं. घटना के बाद गुरुग्राम की एक महिला बेहोश हो गई. महिला का अस्पताल में इलाज चल रहा है. गुरुग्राम में दो, फरुखनगर में तीन और सोहना में तीन महिलाओं ने चोटी काटे जाने का दावा किया जा रहा है.

रात दो बजे कटी चोटी: गड़गांव गांव की महिला के मुताबिक सोमवार रात दो बजे के करीब वह टीवी देख रही थी. अचानक उसका दम घुटने लगा. उसे लगा कि कोई उसका गला दबा रहा है. शोर मचाने पास के कमरे में सो रहे बेटे-बहु दौड़कर आए. परिजनों ने देखा कि महिला की चोटी के बाल बिस्तर के पास कटे हुए पड़े थे. परिजनों ने बताया कि इस घटना से रूपा की घबराहट बढ़ गई. मौके पर ही बेहोश हो गई. बदहवास हालत में महिला को जिला नागरिक अस्पताल लाया गया.

सरेआम काटी गई चोटी: निकटवर्ती रन्हेड़ाखेड़ा गांव में मगंलवार को सरेआम एक किशोरी की चोटी काटने का मामला सामने आया है. हथीन के गांव कूकरचाटी में सोमवार को एक महिला की चोटी कटने के बाद कुछ घंटों बाद उसकी बहू की चोटी भी कट गई.

मथुरा में पांच महिलाओं की चोटी काटी: मथुरा में तीन दिनों के भीतर चोटी काटने की पांच घटनाएं सामने आई हैं. प्रशासन ने ग्रामीणों को अफवाहों से सतर्क रहने की सलाह दी है.

तीन दिन में 53 लाख बार देखा गया लड़की के बाल काटने वाला यह वीडियो, भावुक हो जाएंगे आप

ढाका: घरेलू हिंसा के ज्यादातर मामलों में लड़कियों और महिलाओं को बाल पकड़कर उन्हें प्रताड़ित किया जाता है. इसी बात को ध्यान में रखकर बांग्लादेश का एक वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. शायद इस वीडियो के जरिए दिया जा रहा संदेश लोगों को पसंद आ रहा है, इसलिए यह वायरल हो रहा है. दो अप्रैल को बेस्ट एड्स (Best Ads) के फेसबुक पेज से शेयर किए गए इस वीडियो को अब तक 5.3 मिलियन (53 लाख) से ज्यादा बार देखा जा चुका है. इतना ही नहीं, इस वीडियो को करीब 89 हजार लोग शेयर कर चुके हैं. इस वीडियो के जरिए संदेश देने की कोशिश की गई है कि लड़कियां घरेलू हिंसा से इस कदर तंग हो गई हैं कि उन्हें जिस बाल से सबसे ज्यादा लगाव है वह उसे भी कुर्बान करने को तैयार हैं.

वीडियो के शुरुआत में लहंगे में सजी-धजी एक लड़की सैलून में आती है. वह चेंज करने के बाद चेयर पर बैठती है और बाल काटने को कहती है. सैलून की कर्मचारी कहती है कि मैम आपके बाल काफी खूबसूरत हैं, इन्हें लंबा ही रहने दीजिए, कहिए तो इसे ट्रिम कर दूं. इसपर पर लड़की दोबारा से बाल छोटे करने का इशारा करती है.


बाल थोड़े छोटे करने के बाद सैलून की हेयर ड्रेसर पूछती है कि अब ठीक है, तो उसका जवाब होता है और छोटा कर दो. करीब 80 फीसदी बाल काटने के बाद जब हेयर ड्रेसर पूछती है अब रहने दूं, तो उस लड़की के आंखों से आंसू बहने लग जाते हैं. वह कहती है आप इस बाल को इतने छोटे कर दो ताकि यह किसी के हाथों में न आ पाए. उस लड़की ये बातें सुनकर सैलून में मौजूद सभी लड़कियां चौंकती हैं और वे भी भावुक हो जाती हैं. बताया जा रहा है कि इस विज्ञापन को एक तेल बनाने वाली कंपनी ने तैयार कराया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *