भोपाल कलेक्टर बना किसान का बेटा

भोपाल.मध्य प्रदेश सरकार ने बुधवार को 35 आईएएस के तबादले कर दिए। नई तबादला सूची के अनुसार डॉ. सुदाम खाड़े भोपाल के कलेक्टर बनाए गए हैं। डॉ. खाड़े इसके पहले सीहोर कलेक्टर थे। – डॉ. सुदाम खाड़े महाराष्ट्र के सतारा जिले में आने वाले एन्कुल गांव से हैं। बता दें कि एन्कुल गांव महाराष्ट्र के सूखे पीड़ित क्षेत्रों में आता है।
– उनके माता-पिता किसान हैं। डॉ. खाड़े ने बताया कि जब कभी वे अपने गांव जाते हैं तो खेतों में पिता के साथ हाथ बंटाते हैं।
– आईएएस बनने की बात पर उन्होंने कहा कि मेरा गांव बेहद पिछड़ा और सूखा प्रभावित है।
– घर में पैसों की तंगी होती थी पर मैंने पढ़ाई नहीं छोड़ी और एमबीबीएस एग्जाम टॉप किया।

-बता दें कि मेडिकल की पढ़ाई के दौरान डॉ. खाड़े कबड्डी खेलने के शौक़ीन थे। वे स्टेट लेवल कबड्डी प्लेयर रह चुके हैं।
– इसके अलावा वे कई स्ट्रीट प्ले और थिएटर भी कर चुके हैं। उन्हें मराठी नाटक ‘तरुण तुर्क महात्रे अर्क’ के लिए स्टेट लेवल अवार्ड से भी सम्मानित किया गया था।

एक साल में निकाला UPSC एग्जाम…
– डॉ. खाड़े ने महज एक साल की पढ़ाई में यूपीएससी क्लियर कर लिया था।वे 2006 बैच के आईएएस अफसर हैं।
– उन्होंने बताया कि डॉक्टर रहते हुए हम लोगों की सेहत सुधार सकते हैं, लेकिन आईएएस बनकर और बेहतर समाज सेवा की जा सकती है।
सीसीटीवी से करते थे निगरानी
डॉ. खड़े इससे पहले उस वक्त चर्चा में आए थे, जब उन्होंने सरकारी अस्पताल में अनियमितताओं के आरोपों के चलते डॉक्टर्स के कैबिन, आउट पेशेंट डिर्पाटमेंट और कैंटिन सहित अन्य एरिया में सीसीटीवी कैमरे लगवाने के लिए प्रबंधन को प्रेरित किया था।
भोपाल के विकास के लिए काम करूंगा…

तबादले को लेकर डॉ खाड़े ने कहा कि, इस बार मुझे राजधानी जिम्मेदारी मिली है, परिस्थिति, जरूरत और सुधार की गुंजाइश को समझते हुए मैं भोपाल के विकास के लिए आगे काम करूंगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *