भारत-अमेरिका संबंध विकास और विश्व शांति के लिये महत्वपूर्ण : मुख्यमंत्री श्री चौहान

जीएसआईटीएस इंदौर में प्रारंभ होगा इन्क्यूबेशन एवं उद्यमिता केन्द्र
यूएस इंडिया बिजनेस काउंसिल का प्रतिनिधि मंडल नवम्बर में प्रदेश आएगा

भोपाल : 
 

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी और अमेरिका के राष्ट्रपति श्री डोनाल्ड ट्रंप के परस्पर सहयोग से भारत-अमेरिका के संबंध प्रगाढ़ हुए हैं। दोनों देशों के संबंध न सिर्फ विकास के लिये बल्कि विश्व शांति के लिये भी महत्वपूर्ण होंगे।

श्री चौहान ने अमेरिका प्रवास से लौटने पर स्टेट हेंगर पर मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि कि सदी के महान चिंतक स्वर्गीय पंडित दीनदयाल उपाध्याय के जन्म शताब्दी वर्ष में एकात्म मानववाद की प्रासंगिकता पर व्याख्यान के लिये भारतीय दूतावास द्वारा उन्हें आमंत्रित किया गया था। उन्होने कहा कि एकात्म मानववाद की प्रासंगिता को दुनिया स्वीकार कर रही है। अब दुनिया में एकात्म मानववाद का विचार ही आशा का केन्द्र है। बाकी विचारधाराएं असफल और अप्रासंगिक हो गई हैं।

श्री चौहान ने बताया कि उन्होने अप्रवासी भारतीयों को भारत और मध्यप्रदेश के अभूतपूर्व विकास के संबंध में जानकारी दी। उन्होने कहा कि ‘फ्रेंडस आफ मध्यप्रदेश’ एक मजबूत मंच बन गया है। मध्यप्रदेश से बड़ी संख्या में अप्रवासी भारतीय अमेरिका में महत्वपूर्ण पदों पर कार्यरत हैं। सबके आग्रह पर पिछले साल ‘फ्रेंडस आफ मध्यप्रदेश’ का गठन किया गया था। इसके माध्यम से अमेरिका में मध्यप्रदेश के बारे में सकारात्मक राय बनाने में मदद मिली है। अब इसकी गतिविधियों का विस्तार हो रहा है। उन्होने बताया कि अमेरिका में बसे मध्यप्रदेश के लोगों की मांग है कि इंदौर और भोपाल से इंटरनेशनल हवाई उड़ान शुरू होना चाहिये। श्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश की सकारात्मक छवि निर्माण के लिये ‘फ्रेंडस आफ मध्यप्रदेश’ महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है।

श्री चौहान ने कहा कि कोलंबिया के चार सौ डाक्टर्स की टीम मध्यप्रदेश आने के लिये तैयार है। उन्होने बताया कि थैलीसीमिया के मरीज प्रदेश में ज्यादा हैं। इस बीमारी का इलाज महंगा होता है क्योंकि बोनमेरो ट्रांसप्लांट मंहगा होता है। उन्होंने बताया कि इसके उपचार के लिये एम वाय अस्पताल इंदौर में सभी व्यवस्थाएं पूरी की जा रही हैं। आगामी अप्रैल- मई माह में ऑपरेशन भी शुरू हो जायेंगे। अभी डॉक्टर्स अमेरिका में प्रशिक्षण ले रहे हैं। इसी प्रकार कैंसर के इलाज के लिये भी प्रस्ताव मिले हैं। उन्होंने कहा कि अप्रवासी भारतीय स्वास्थ्य एवं शिक्षा के क्षेत्र में सहयोग करना चाहते हैं। अप्रवासी भारतीयों की दूसरी पीढ़ी के बच्चे अपनी संस्कृति से जुड़ना चाहते हैं। इसके लिये 4 और 5 जनवरी को इंदौर में ‘फ्रेंड्स ऑफ एमपी’ की बैठक आयोजित होगी। इसमें मध्यप्रदेश में परस्पर सहयोग के क्षेत्रों पर विचार किया जाएगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि जीएसआईटीएस इंदौर में इन्क्यूबेशन एवं उदयमिता केन्द्र प्रारंभ किया जाएगा। इसमें न्यूयार्क विश्वविद्यालय का टण्डन स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग सहयोग करेगा। उन्होंने बताया कि यूएस इंडिया बिजनेस काउंसिल का प्रतिनिधि मंडल नवम्बर माह में मध्यप्रदेश आएगा। यह दल खाद्य प्रसंस्करण, रक्षा, आटो मोबाइल और टेक्सटाइल के क्षेत्र में निवेश की संभावनाओं पर चर्चा करेगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान का अमेरिका यात्रा से लौटने पर स्वागत

 

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान का अमेरिका यात्रा से लौटने पर आज स्टेट हेंगर पर उत्साहपूर्वक स्वागत किया गया। मुख्यमंत्री श्री चौहान विगत 22 से 28 अक्टूबर तक अमेरिका प्रवास के बाद आज शाम भोपाल पहुँचे।

आज स्टेट हेंगर पर मुख्यमंत्री श्री चौहान का स्वागत करने वालों में वित्त मंत्री श्री जयंत मलैया, कृषि मंत्री श्री गौरीशंकर बिसेन, महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनीस, लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह, गृह एवं परिवहन मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह, नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री श्रीमती माया सिंह, राजस्व मंत्री श्री उमाशंकर गुप्ता, उच्च शिक्षा मंत्री श्री जयभान सिंह पवैया, उद्यानिकी राज्यमंत्री श्री सूर्यप्रकाश मीणा, सांसद एवं भाजपा प्रदेश अध्यक्ष श्री नंदकुमार सिंह चौहान, सांसद श्री प्रभात झा, महापौर श्री आलोक शर्मा, भोपाल प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री ओम यादव, निगम-मंडलों के अध्यक्ष, विधायक, पदाधिकारी, वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी, बड़ी संख्या में कार्यकर्ता और नागरिक उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *